Friday, June 11, 2021
Homeस्पोर्ट्स ज्ञानएक ऐसा स्पिनर जिसने देश के लिए सहे करंट के झटके, कॅरियर...

एक ऐसा स्पिनर जिसने देश के लिए सहे करंट के झटके, कॅरियर के साथ नहीं हो सका इंसाफ

भारतीय क्रिकेट टीम के इतिहास में एक से एक ऐसे स्पिनर आए। जिन्होंने इतिहास बना दिया। ऐसे ही एक स्पिनर आए दिलीप दोषी। जिन्होंने इतिहास तो बनाया, लेकिन चर्चा में नहीं आ पाए। जितना आना चाहिए था।

साल 1981 इंडियन टीम आस्ट्रेलिया दौर (australia tour ) पर थी। इस टूर पर टीम का हाल काफी अच्छा नहीं था। औसत भी नहीं कहा जा सकता। आस्ट्रेलिया ने पारी से जीत लिया। पहले ही मैच को आस्ट्रेलिया ने पारी से जीत लिया। दूसरा मैच ड्रा (draw)खत्म हुआ। अब सामने था तीसरा मेलबर्न टेस्ट (melbourne test )। इस टेस्ट में कई इतिहास (history )बने। इस टेस्ट को भारत ने जीत लिया। जबकि भारत पहली पारी में 182 रन से पिछड़ा हुआ था। मैच के बाद गुंडप्पा विश्वनाथ (gundappa viswanath) को मैन आफ द मैच चुना गया। मैच के बाद कपिल देव ने भी काफी तारीफ बटोरी थी। लेकिन सबसे अधिक काम किया दिलीप दोषी (dilip doshi) ने। उन्होंने ने तो वह कर दिया जो आज तक कोई नहीं कर पाया।

टूटे पांव से पूरे मैच में खोले दिलीप

दोषी ने मेलबर्न टेस्ट की पहली पारी में तीन और दूसरे पारी में दो विकेट हासिल किए। यानी आस्ट्रेलिया के एक चौथाई विकेट दोषी के हिस्से में गए। लेकिन इन विकेटों के लिए दोषी को काफी बड़ी कीमत चुकानी पड़ी। दोषी इस मैच में फैक्चर पांव से खेले। कई साल बाद एक इंटरव्यू में दोषी ने बताते हुए कहा कि मेरे पैर में फैक्चर था, लेकिन मैने कहा कि मैं खेलूंगा। हर शाम को मेरे पांव में इलेक्ट्रॉड लगाकर झटके दिए जाते थे। इन झटको से काफी दर्द होता था।

भारतय टीम के लिए चार साल ही खेल पाए दोषी

दिलीप रसिकलाल दोषी भारत के लिए चार साल ही खेल पाए। दिलीप उन खिलाडिय़ों में से एक थे जो भारत के लिए खेलने से पहले ही अंतरराष्ट्रीय स्तर बन चुके थे। वह किसी भी एरा में 100 टेस्ट खेलने की क्षमता रखते थे। लेकिन उनके सामने भारत के पास इरापल्ली प्रसन्ना, बिशन सिंह बेदी, भगवत चंद्रशेखर जैसे खिलाड़ी थे।

सोबर्स ने भी की थी दिलीप की तारीफ

दिलीप का करियर इंडिया में भले ही न चला हो। लेकिन काउंटी में उनका सिक्का खूब चला। ऐसे ही एक बार नॉटिंघमशर के लिए खेल रहे थे। काउंटी ने गैरी सोबर्स को दिलीप की गेंदबाजी देखने के लिए बुलाया। मैच में सात विकेट लेने के बाद जब दोषी मैदान से बाहर आ रहे थे तो उन्होंने देखा कि सोबर्स अपनी कार के पास खड़े थे। सोबर्स ने दोषी को कहा गुड बॉलिंग बेटा। तुम बेहतरीन हो।

Stay Connected

259,756FansLike
345,788FollowersFollow
223,456FollowersFollow
33,456FollowersFollow
566,788SubscribersSubscribe

Must Read

Related News