Saturday, June 12, 2021
Homeबिज़नेस हिन्दीदलीप सांधवी, मात्र 10 हजार से शुरू किया बिजनेस, फिर बन गए...

दलीप सांधवी, मात्र 10 हजार से शुरू किया बिजनेस, फिर बन गए मुकेश अंबानी से भी अमीर

कई लोगों का संघर्ष और सफलता बिल्कुल जादुई होती है। ऐसी ही एक कहानी है दलीप सांधवी (Sun Pharma Founder Dilip Shanghvi) की, जिन्होंने महज 10 हजार रुपए से अपना बिजनेस शुरू किया और फिर देश के सबसे अमीर शख्स बन गए।

मुंबई। इस शख्स ने मात्र 10 हजार रुपए से अपना बिजनेस शुरू किया था, मगर एक दिन ऐसा भी आया, जब वह एशिया के सबसे अमीर बिजनेसमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) को पछाडक़र देश के नंबर वन अमीर (No One Rech) बन गए। पंरतु यह मंजिल उन्होंने ऐसे ही नहीं पाई थी, इसके लिए उन्होंने कड़ा संघर्ष और अथक परिश्रम किया था। यह जादुई कहानी है देश की सबसे बड़ी दवा कंपनी सन फार्मा के संस्थापक दलीप सांघवी (Sun Pharma Founder Dilip Shanghvi) की। जिन्होंने साल 2015 में मुकेश अंबानी के सिर से सबसे अमीर बिजनेसमैन होने का ताज छीन लिया था।

अमीर शख्स बनकर परेशान हो गए थे सांधवी

मुकेश अंबानी से अमीर बनने का सफर उन्होंने ऐसे ही तय नहीं किया। इसके लिए दलीप सांधवी ने कड़ी तपस्या से खुद को इस मुकाम तक पहुंचाया है। हालांकि एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि जैसे ही साल 2015 में वह इस सक्सेस तक पहुंचे तो वह काफी परेशान भी हो गए थे। इस मंजिल को छूने से पहले तक दलीप सांधवी को बहुत ही कम लोग जानते थे। उन्होंने मीडिया को दिए इस इंटव्यू (Media Interview) में बताया था कि भले ही तब लोग सन फार्मा (Sun Pharma) के बारे में जानते हों,मगर उनकी असल पहचान तब बनीं, जब वह भारत के सबसे अमीर शख्स बनें।

उनमें बढ़ गई थी लोगों की दिलचस्पी

इसके बाद वह लोगों की निगाहों में आ गए। हर कोई उनके बारे में जानने के लिए उत्सुक रहने लगा। उनमें लोगों की दिलचस्पी इस कदर बढ़ गई कि वह खुद को परेशान महसूस करने लगे थे। बता दें कि सन फार्मा कंपनी की स्थापना कर देश के सबसे अमीर आदमी होने का गौरव हासिल करने वाले दलीप सांधवी मूल रूप से गुजरात ( Birth In Gujrat) में जन्मे और कोलकत्ता (Calcutta) में अपनी पढ़ाई हासिल की। इस समय उनकी सपंत्ति की बात करें तो वह 10.9 बिलियन डॉलर के मालिक हैं। जिसके बाद उन्हें देश के सबसे अमीर दस लोगों में शामिल किया गया है।

देश की नंबर वन कंपनी है सनफार्मा

यह भी बहुत कम लोगों को पता होगा कि दलीप सांधवी की कंपनी सन फार्मा आज देश की नंबर वन पोजीशन पर खड़ी है। यही नहीं बल्कि यह कंपनी दुनिया के पांच सबसे बड़ी कंपनियों में भी शामिल है। सांधवी ने साल 1982 में अपनी इस दवा कंपनी की शुरूआत महज 10 हजार रुपए (Only Ten Thousand) से की थी। इसमें भी कई बार उन्हें असफलता का सामना करना पड़ा है। मगर उन्होंने हार नहीं मानी और वह लगातार आगे बढ़ते गए। इस तरह से सन फार्मा ने धीरे धीरे अपना बिजनेस फैलाया और देखते ही देखते यह कंपनी रफ्तार पकड़ते हुए आज देश की सबसे बड़ी दवा कंपनी बन गई है।

रैनबेक्सी को भी खरीद लिया

सन फार्मा ने उस समय भी काफी सुर्खियां बटोरी थी, जब उन्होंने रैनबेक्सी (Buy Ranbaxy) जैसी जानी मानी कंपनी को खरीद लिया था। साल 2015 में सन फार्मा का बिजनेस इतनी तेजी से बढ़ा कि शेयर मार्केट में उसने जोरदार ऊंचाई छू ली,जिसके बाद उनके शेयर का भाव 1000 रुपए हो गया था। हालांकि बाद में यह कम होकर 650 रुपए पर पहुंच गया। मगर आज भी यह कंपनी अपनी बढ़त बनाए रखने के लिए खासी मेहनत कर रही है।

Stay Connected

259,756FansLike
345,788FollowersFollow
223,456FollowersFollow
33,456FollowersFollow
566,788SubscribersSubscribe

Must Read

Related News