Saturday, June 12, 2021
Homeमोटिवेशनल स्टोरीजकर्मचारी को कोरोना होने पर नहीं मिली एंबुलेंस, मालिक ने अपने सारे...

कर्मचारी को कोरोना होने पर नहीं मिली एंबुलेंस, मालिक ने अपने सारे वाहनों को एंबुलेंस में बदला

कोरोना संक्रमण ने देश को पूरी तरह से जकड़ लिया है। प्रतिदिन कोरोना के एक हजार से अधिक केस सामने आ रहे है।

कोरोना संक्रमण (corona virus ) ने देश को पूरी तरह से हिला कर रख दिया है। लोगों का अस्पताल (hospital ) तक पहुंचने के लिए एंबुलेंस भी नहीं मिल रही है। लेकिन कुछ सामाजिक लोगों की वजह से परेशानियां दूर हो रही है। ऐसे ही लोगों में केरल (keral ) कोच्ची नजीब (najeeb) वेल्लक्कल  शामिल है। जिन्होंने एंबुलेंस (ambulance) की कमी को दूर करने के लिए अपने सभी वाहनों को एंबुलेंस में तब्दील करवा दिया।

कर्मचारी को नहीं मिली एंबुलेंस

नजीब वेल्लक्कल बताते है कि वह ट्रांसपोर्ट का काम करते है। उनका स्टाफ भी कोरोना पॉजिटिव हो गया था। लेकिन उनके स्टाफ को अस्पताल तक पहुंचने के लिए एंबुलेंस नहीं मिली। काफी प्रयास किया, लेकिन अंत में सब बेकार। कोई भी एंबुलेंस खाली नहीं थी। अंत में उन्होंने अपने एक वाहन को ही एंबुलेंस में बदलवाकर अपने स्टाफ को अस्पताल पहुंचाया।

आम लोगों की परेशानी के बारे में सोचा
नजीब बताते है कि वह उस दिन सोचने पर मजबूर हो गए कि जब उनके स्टाफ को इतनी परेशानी हो रही है तो कोरोना पाजिटिव आम लोगों को कितनी परेशानी होती होगी। लोगों को एंबुलेंस नहीं मिलने के कारण भटकना पड़ता होगा। क्योंकि इस समय प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के पास भी एंबुलेंस नहीं है। इसके बाद उन्होंने अपनी सभी गाडिय़ों को एंबुलेंस में तब्दील करवा दिया।

खाली मरीजों से लेते है पेट्रोल की कीमत

नजीब बताते है कि उनके इस काम में ड्राइवरों ने भी काफी साथ दिया। वह सभी एंबुलेंस चलाने के लिए तैयार हो गए। वह बताते है कि वह मरीज के परिजनों से केवल पेट्रोल की कीमत ही वसूलते है। नजीब को इस नेक के लिए मेयर और रिजनल ट्रांसपोर्ट मंत्री से भी सराहना मिल चुकी है।

 

Stay Connected

259,756FansLike
345,788FollowersFollow
223,456FollowersFollow
33,456FollowersFollow
566,788SubscribersSubscribe

Must Read

Related News